हरियाणा रोडवेज के कर्मचारियों ने सरकार को दिया अल्टीमेटम

रोहतकः हरियाणा रोडवेज के कर्मचारियों ने सरकार को दिया अल्टीमेटम
रोडवेज बेड़े में निजी परमिट देने के मामले की सीबीआई जांच हो
रोहतक में प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया निर्णय
रोडवेज कर्मचारी नेता वीरेंद्र सिंह धनखड़ का बयान
कर्मचारियों की मांगों की अनदेखी हुई तो आंदोलन होगा  

रोडवेज कर्मचारी यूनियन ने सरकार पर विभाग को निजीकरण करने का आरोप लगाते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है। साथ ही यूनियन ने किलोमीटर स्कीम की प्राईवेट गाडियों की जांच सीबीआई से कराने की मांग की। वीरवार को रोडवेज यूनियन मुख्यालय में हरियाणा कर्मचारी महासंघ से संबंधित रोडवेज कर्मचारी यूनियन हरियाणा की राज्य स्तरीय बैठक प्रदेश अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह धनखड़ की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।  बैठक के दौरान प्रदेशाध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह धनखड़ ने बातचीत करते हुऐ कहा कि वर्तमान राज्य सरकार जनता से सीधा सरोकार रखने वाले परिवहन विभाग को धनाढय व पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए निगम बनाने पर आमदा है। उन्होंने कहा कि सही सलामत चल रहे विभाग में प्राइवेट बसों को हायर करने की जरूरत ही क्यों पडी और फिर हायर करने की प्रक्रिया सवालो के घेरे में आना तथा बाद में सरकार द्वारा इस मामले की विजिलैस जांच कराना यह सिद्ध करता है कि प्रक्रिया में एक बडे घोटाले का अंदेशा है। धनखड़ ने कहा कि  किलोमीटर स्कीम की सीबीआई द्वारा जांच कराई जाएं, ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। साथ ही उन्होंने प्रदेश में बढ़ती आबादी के मध्यनजर परिवहन बेडे में प्रतिवर्ष दो हजार बसे शामिल करने की मांग की, उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने यूनियन की मांगों को पूरा नहीं किया तो 22 जून को कुरूक्षेत्र में होने वाले अधिवेशन में आगामी आंदोलन का निर्णय लिया जाएगा। 

(Visited 43 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!