हरियाणा में महंगी हुई शराब

Watch Like & Subscribe the k9media Youtube channel

हरियाणा में महंगी हुई शराब
देसी 10 रु. बोतल महंगी तो 198 गांव में नहीं खुलेंगे ठेके
नई आबकारी नीति घोषित
चंडीगढ़,रामचंद्र लठवाल
एक वर्ष के लिए नई आबकारी नीति सोमवार को घोषित कर दी गई। इसी के साथ अब हरियाणा राज्य में देसी शराब 10 रुपए प्रति बोतल महंगी होेगी। देसी शराब का खुदरा मूल्य 140 रु. बोतल निर्धारित किया गया है। जबकि अब तक यह 130 रुपए था। इसके साथ ही प्रदेश में शराब ठेकों की संख्या पर लगाम लगाई गई। इस वित्त वर्ष में राज्य में 2500 से अधिक ठेके नहीं होगें, जबकि 198 ग्राम पंचायतों में ठेके नहीं खेलेंगे। इनमें सबसे अधिक भिवानी की 25, नारनौल में 24, रेवाड़ी में 23, पलवल में 17 व हिसार की 11 ग्राम पंचायतों में ठेके नहीं खुलेंगे। खुदरा लाइसेंसधारकों को शराब की बिक्री का बिल अनिवार्य रूप से देना होगा। ठेकेदार को आधार कार्ड नंबर दर्ज कराना होगा। मानेसर में पब खोलने की अनुमति दी गई है। पब लेने की फीस आठ लाख रु. होगी।
शराब अर्जित आय को खेलों पर लगाएंगे
आबकारी एवं कराधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने बताया कि देसी शराब (सीएल) और भारतीय निर्मित विदेशी शराब (आईएमएफएल) या बीयर की बिक्री पर 1 रुपया प्रति बोतल का खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए उपयोग किया जाएगा, जबकि 3 रुपए, 5 रुपए और 7 रुपए ग्रामीण क्षेत्रों में विकास गतिविधियों के लिए पंचायती राज संस्थाओं को दिए जाएंगे। पंचायतों, पंचायत समितियों और जिला समितियों के लिए 70:20:10 के अनुपात में फंड का वितरण किया जाएगा। बैंक्वेट हॉल जैसे वाणिज्यिक स्थलों पर समारोहों के दौरान एक दिन के लिए शराब सर्व करने का लाइसेंस ऑनलाइन दिया जाएगा।
शराब बिक्री से 5682 करोड़ राजस्व की उम्मीद
वर्ष 2017-18 को आबकारी राजस्व के लिए सफल बताया गया है। इस वर्ष फरवरी तक के वैट सहित 5,682 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित किए जाने की उम्मीद है। वर्ष 2016-17 में राज्य का आबकारी राजस्व 11.71 प्रतिशत था, जो वर्ष 2017-18 में 13 प्रतिशत हो गया है



Kisan Protest

Follow us on facebook
twitter
youtube
dailymotion
G+

(Visited 95 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!