शहीद ऊधम सिंह पार्क में पिछले 9 दिनों से नशा विरोधी मुहिम को लेकर धरने पर बैठे प्रवीण काशी ने की प्रेस वार्ता

फतेहाबाद के शहीद ऊधम सिंह पार्क में पिछले 9 दिनों से नशा विरोधी मुहिम को लेकर धरने पर बैठे प्रवीण काशी ने की प्रेस वार्ता, प्रवीण काशी का कहना जब तक सरकार नशाबंदी का नहीं लेती फैसला तब तक जारी रहेगा उनका आमरण अनशन, उनका कहना या तो फतेहाबाद से जाएगा नशा या उठेगी प्रवीण काशी की लाश, प्रवीण काशी का कहना 15 जुलाई को कष्ट निवारण समिति की बैठक में भाग लेने आ रहे हैं राज्य मंत्री कृष्ण बेदी, सैकड़ों लोगों को साथ लेकर नशा विरोधी मुहिम के तहत सौंपा जाएगा उन्हें ज्ञापन, लगातार नशे को बढ़ावा देने वाले नाइजीरियन पर सख्त कार्रवाई की भी की बात। फतेहाबाद के शहीद उधम सिंह पार्क में पिछले 9 दिनों से नशा विरोधी मुहिम को लेकर धरने पर बैठे प्रवीण काशी ने आज प्रेस वार्ता की। मीडिया से बातचीत करते हुए प्रवीण काशी ने कहा कि जब तक सरकार नशा बंदी को लेकर कोई ठोस आश्वासन नहीं लेती तब तक उनका आमरण अनशन जारी रहेगा। प्रवीण काशी ने कहा कि आने वाली 15 जुलाई को राज्य मंत्री कृष्ण बेदी फतेहाबाद में कष्ट निवारण समिति की बैठक में भाग लेने के लिए आ रहे हैं। जहां पर सैकड़ों लोगों के साथ जाकर उन्हें नशाबंदी की मुहिम को लेकर एक ज्ञापन सौंपा जाएगा। प्रवीण काशी का कहना है कि बिहार और गुजरात की तर्ज पर हरियाणा मे भी नशा बंदी का फैसला लिया जाए। प्रवीण काशी ने कहा कि अधिकतर नशे की सप्लाई नाइजीरियन द्वारा की जा रही है। जितने भी नशा तस्करी के मामले सामने आ रहे हैं सबके सप्लाई नाइजीरिया नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में सरकार को चाहिए कि जो नाइजीरियन नशे के धंधे में संलिप्त है उन्हें डिपोर्ट किया जाए और देश से भगाया जाए। जो देश मैं नशा फैलाने की साजिश रच रहे हैं उनके दूतावास पर ताले लगाई जाए। आज प्रवीण काशी के साथ कई राजनीतिक दलों के लोग भी मौजूद थे। इन लोगों ने प्रवीण काशी के साथ मंच साझा किया। प्रवीण काशी ने साफ तौर पर ऐलान किया कि जब तक नशा बंद नहीं होगा तब तक उनका आमरण अनशन जारी रहेगा या तो नशा जाएगा या प्रवीण काशी की लाश जाएगी। गौरतलब है कि प्रवीण काशी संत गोपालदास के समर्थक है और उन्हीं के निर्देशानुसार आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं। इस दौरान मंच पर संत गोपालदास कि प्रवीण काशी के साथ बैठे नजर आए।

(Visited 7 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!