महर्षि दयानंद के विचारों एवं सिद्धांतों को आत्मसात कर विद्यार्थी सामाजिक जागरूकता की अलख जगाएं।

Watch Like & Subscribe the k9media Youtube channel
रोहतक, 14 मार्च। महर्षि दयानंद के विचारों एवं सिद्धांतों को आत्मसात कर विद्यार्थी सामाजिक जागरूकता की अलख जगाएं। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (एमडीयू) के कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने आज हरियाणा अध्ययन केन्द्र, लोक प्रशासन विभाग तथा यूनिवर्सिटी आउटरिच प्रोग्राम के संयुक्त तत्वावधान में गांव बनियानी में-स्किल डेवलपमेंट एंड एन्त्रोप्रोनियरशिप कार्यशाला के लिए प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों के दल को रवाना करते हुए व्यक्त किए। कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने हरी झंडी दिखाकर इस दल को रवाना किया।
कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने अपने प्रेरणादायी संबोधन में दल में शामिल प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दी और उनके इस प्रयास की सराहना की। कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने विद्यार्थियों को सफलता का मूलमंत्र देते हुए कहा कि लगन, निष्ठा और मेहनत से किया कार्य ही सफल होता है। इसलिए जीवन में जो भी कार्य करें, उसे सफल बनाने के लिए हरसंभव प्रयास करें।
कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में कौशल विकास एवं उद्यमिता के प्रति जागरूकता की अलख जगाना आधुनिक समय की जरूरत है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में विश्वविद्यालय का हरियाणा अध्ययन केन्द्र, लोक प्रशासन विभाग एवं यूनिवर्सिटी आउटरिच प्रोग्राम संयुक्त रूप से बेहतरीन प्रयास कर रहा है, जिसके लिए वे सभी बधाई के पात्र हैं। इस कार्य में सहयोग करने वाले शोधार्थियों एवं विद्यार्थियों की भी कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने हौंसलाअफजाई की और बधाई दी।
हरियाणा अध्ययन केन्द्र की निदेशिका तथा लोक प्रशासन विभाग की अध्यक्षा प्रो. अंजना गर्ग ने कुलपति को इस कार्यशाला बारे जानकारी दी। इस अवसर पर यूनिवर्सिटी आउटरिच प्रोग्राम के निदेशक प्रो. महताब सिंह, महिला अध्ययन केन्द्र की उप निदेशिका डा. नीरजा अहलावत, अर्थशास्त्र विभाग की प्रोफेसर डा. कविता चक्रवर्ती, प्राध्यापक डा. राजेश कुण्डू समेत शोधार्थी एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।
बनियानी गांव में लगभग 150 ग्रामीण महिलाओं ने इस कार्यशाला में भाग लिया। जिला इंडस्ट्रीयल सेंटर रोहतक के दीपक कुमार ने उद्यमिता एवं कौशल विकास बारे विस्तार से जानकारी दी। दीपक ग्रेवाल ने उद्यमिता के लिए बैंक लोन की प्रक्रिया बारे विस्तार से जानकारी दी। प्रो. अंजना गर्ग ने कार्यशाला आयोजन में सहयोग देने वाले सभी ग्रामिणों, पंचायत प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों का आभार जताया। इस अवसर पर सरोज, रजनी, ललिता, अर्चना, संजू, गीता, निर्मला, सखी, शर्मा, प्रियंका, मोहित दिनेश, अशोक, अजीत व दीपक आदि छात्रों समेत ग्रामवासी उपस्थित रहे।

2 Attachments
Attachments
Attachments
Attachments
Attachments । Attachments
ttachments area



Follow us on facebook
twitter
youtube

(Visited 3 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!