भारत का हर व्यक्ति किसी भी शासकीय कार्यालय से जनहित की जानकारी लेने का अधिकार रखता है।

Watch Like & Subscribe the k9media Youtube channel

रोहतक, 16 अप्रैल। भारत का हर व्यक्ति किसी भी शासकीय कार्यालय से जनहित की जानकारी लेने का अधिकार रखता है। हर जागरूक व्यक्ति भारतीय संविधान द्वारा प्रदत्त इस अधिकार का प्रयोग करे, साथ ही यह भी सुनिश्चित करे कि सूचना के अधिकार का उपयोग दुर्भावना की बजाए समाज हित के लिए हो। यह उद्गार महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (एमडीयू) के लोक प्रशासन विभाग की अध्यक्षा प्रो. अंजना गर्ग ने आज इंस्टीट्यूट ऑफ होटल एंड टूरिज्म (आईएचटीएम) में आरटीआई विषय पर विशेष व्याख्यान देते हुए व्यक्त किए।
प्रो. अंजना गर्ग ने कार्यक्रम में विद्यार्थियों को सूचना का अधिकार अधिनियम के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज आम जन को सूचना का अधिकार अधिनियम के बारे जागरूक होना होगा। उन्होंने सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत मांगी जाने वाली सूचनाओं के बारे में विद्यार्थियों को बताया। साथ ही सूचना के अधिकार का उपयोग धैर्य और सहनशीलता से करने का आह्वान किया। प्रो. अंजना गर्ग ने कहा कि सूचना का अधिकार अधिनियम पारदर्शी सुशासन व्यवस्था और समाज में सकारात्मक बदलाव के लिए बनाया गया है। इससे पूर्व आईएचटीएम निदेशक प्रो. आशीष दहिया ने स्वागत भाषण दिया और प्रो. अंजना गर्ग को स्मृति चिह्न भेंट किया। छात्र फरहिम ने आभार प्रदर्शन किया। इस अवसर पर आईएचटीएम के प्राध्यापक, शोधार्थी एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।
रोहतक, 16 अप्रैल। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (एमडीयू) की सत्र 2018-2019 की बीपीएड तीसरे सेमेस्टर की री-अपीयर की परीक्षाएं 7 मई 2019 को आयोजित की जाएगी।
परीक्षा नियंत्रक डा. बीएस सिन्धु ने बताया कि बीपीएड तीसरे सेमेस्टर की री-अपीयर की परीक्षा के लिए परीक्षा फार्म 25 अप्रैल 2019 तक जमा किए जा सकते हैं।


Follow us on facebook
twitter
youtube
dailymotion

(Visited 14 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!