बेरोजगारी का हल निजी क्षेत्र में रोजगार, जेजेपी ने अपने स्तर पर दिलवाया 100 युवाओं को रोजगार मेरा अधिकार- दुष्यंत चौटाला

। जहां एक तरफ सरकार की युवा विरोधी नीतियों की वजह से प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है वहीं दूसरी तरफ जननायक जनता पार्टी बेरोजगारी के खात्मे का लक्ष्य लेकर आगे बढ़ते हुए युवाओं को रोजगार दिलवा रही है। बीते तीन दिनों में जेजेपी जिला कार्यालयों में ही 100 से ज्यादा युवाओं को निजी कम्पनियों में नियुक्ति पत्र दिए जा चुके हैं।

जननायक जनता पार्टी ने निजी क्षेत्र की एक अग्रणी सिक्योरिटी कम्पनी के सहयोग से जींद, हिसार और कैथल जिला कार्यालयों में रोजगार मेले लगाए जिसमें सैंकड़ों बेरोजगार युवाओं ने नौकरी के लिए आवेदन किया। इनमें से कंपनी द्वारा निर्धारित शर्तों को पूरा करने वाले करीब सौ आवेदकों को हाथों हाथ ज्वाइनिंग लेटर भी दिए गए।

शनिवार 8 जून को कैथल में करीब 200 से ज्यादा बेरोजगार युवाओं ने जेजेपी कार्यालय पहुंचकर नौकरी के लिए आवेदन किया जिनमें से 35 से ज्यादा आवेदकों को रोजगार पाने का सुनहरा अवसर मिला। वहीं करीब 50 आवेदकों को अभी वेटिंग लिस्ट में रखा गया है।

इसी तरह रविवार को जींद के अर्बन एस्टेट स्थित पार्टी कार्यालय में 150 से ज्यादा युवा पहुंचे और आवेदन किया। निजी कम्पनी के अधिकारियों ने मौके पर ही उनके साक्षात्कार लिए और 20 से ज्यादा युवाओं को उसी दिन ज्वाइनिंग लैटर दिए गए।

वहीं सोमवार को हिसार के कैमरी रोड स्थित जेजेपी कार्यालय में में करीब 90 युवाओं ने नौकरी के लिए अप्लाई किया जिनमें से 30 को नियुक्ति पत्र दे दिए गए हैं। कम्पनी के अधिकारियों ने बताया कि तीनों जिलों के करीब 100 युवाओं को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है और संभव है कि निकट भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर उनमें से कईयों को नौकरी के लिए बुला लिया जाएगा।

इससे पहले हिसार के सांसद रहते हुए दुष्यंत चौटाला ने हिसार में रोजगार मेला लगाकर एक ही दिन में लगभग 5000 युवाओं को निजी कम्पनियों में रोजगार दिलवाया था। इसके अतिरिक्त भी दुष्यंत चौटाला ने सांसद रहते हुए 5 साल में लगभग 5 हजार अन्य युवाओं को अपने प्रयासों से निजी क्षेत्र की विभिन्न कम्पनियों में नौकरियां दिलवाई हैं।

पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भाजपा के राज में देश और हरियाणा में बेरोजगारी चरम पर पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में निजी क्षेत्र में लाखों रोजगार हैं जिनपर दूसरे राज्यों के लोग काम कर रहे हैं। राज्य के युवाओं के हित में सरकार को ऐसी नीति बनानी चाहिए जिससे हमारे युवा इन नौकरियों के काबिल बन सकें। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार दिलवाना जेजेपी का पहला लक्ष्य है।

प्रदेश में बेरोजगारी को जड़ से खत्म करने के लिए जननायक जनता पार्टी ने “रोजगार मेरा अधिकार” के नाम से एक मुहिम की शुरुआत की है। इस मुहिम के तहत प्रदेश भर में जजपा कार्यकर्ता बेरोजगारों से फार्म भरवाएगी और उनका आंकड़ा एकत्रित करेगी। इन्हीं आंकड़ों के तहत सरकार आने पर युवाओं को रोजगार देने के लिए जेजेपी प्रदेश में युवाओं के लिए “रोजगार मेरा अधिकार” कानून लेकर आएगी जिससे हर हाथ को काम की गारंटी होगी। जेजेपी के हर जिला कार्यालय में रोजगार डेस्क स्थापित किया जाएगा जहां युवा अपने योग्यता दस्तावेज देकर रजिस्टर कर सकेंगे।

इसके अलावा निजी क्षेत्र में प्रदेश की 75 प्रतिशत नौकरियां हरियाणा के युवाओं के लिए आरक्षित की जाएगी। साथ ही सरकारी नौकरियों के आवेदन के लिए कोई फीस नहीं ली जाएगी, परीक्षा गृह जिले में होगी। दिल्ली, गुरुग्राम आदि बड़े शहरों में हरियाणा के युवाओं के लिए छात्रावास खोले जाएंगे।

चौधरी देवीलाल की विचारधारा पर चल रही जननायक जनता पार्टी का मानना है कि जब तक प्रदेश के युवाओं के हाथ में रोजगार नहीं होगा, उन्हें अच्छी शिक्षा नहीं मिलेगी तब तक हर परिवार समृद्ध नहीं हो सकता।

(Visited 16 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!