बेटी-बेटा व दंपती की मौत की सूचना मिलते ही पसर गया मातम

 गोहाना : अमित सभरवाल
 सोनीपत में गांव महलाना के पास नहर में कार गिरने से गोहाना में चोपड़ा कॉलोनी निवासी विजयपाल, उसकी पत्नी संध्या व उनके दो बच्चों की मौत की घटना के बाद शहर में दुख का माहौल है। इस घटना के बाद शोकाकुल परिजनों को ढांढस बंधाने वालों का तांता लगा हुआ है। इस घटना के बाद परिवार में मृतक का भाई व मां ही बच गए हैं।
 चोपड़ा कॉलोनी निवासी विजयपाल व उसका भाई चंद्रपाल एक साथ रहते हैं। दोनों गाडिय़ों की सेल-परचेज का काम करते हैं और महम रोड स्थित बिजली निगम कार्यालय के बाहर आफिस कर रखा है। चंद्रपाल अविवाहित है जबकि विजयपाल शादीशुदा है। विजयपाल की पत्नी संध्या, बेटा हर्ष व बेटी निकिता थीं। परिवार में विजयपाल की मां कृष्णा है जबकि उसके पिता रामनारायण की करीब 29 साल पहले मौत हो चुकी है। बताया गया है कि शुक्रवार शाम को विजयपाल, पत्नी संध्या, बेटे हर्ष व बेटी निकिता के साथ कार में सवार होकर बहादुरगढ़ में अपने रिश्तेदार के लिए यहां जाने के लिए निकला था। विजयपाल की पलवल में ससुराल है, उन्हें वहां भी जाना था। शुक्रवार रात को सोनीपत में मलहाना के पास कार नहर में गिर गई और विजयपाल सहित उसके चारों परिजनों की मौत हो गई। शनिवार को घटना की जानकारी पूरे शहर में फैल गई। इसके बाद लोग शोक व्यक्त करने के लिए चोपड़ा कॉलोनी में विजयपाल के मकान पर पहुंचे। घर पर केवल उसकी मां कृष्णा थी, जिसे घटना की सूचना नहीं दी गई थी। जो व्यक्ति शोक व्यक्त करने जाता वह विजयपाल के पड़ोसी के यहां पहुंच कर बैठ जाता है। बताया गया है कि  विजयपाल व उसका भाई करीब 18 साल सेल-परचेज का काम करते थे। पहले वे सोनीपत में काम करते थे और सात-आठ गोहाना में काम कर रहे थे। उन्होंने करीब तीन साल पहले चोपड़ा कॉलोनी में अपना मकान बनाया था।

(Visited 1 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!