नप कर्मचारियों ने दुकानदारों को पालीथिन के नुकसान के बारे में भी बताया

गोहाना:नवीन कुमार   शहर क्षेत्र में अगर कोई दुकानदार पॉलीथिन के बैगों में सामान बेचते हुए पाया गया तो उस पर नगर परिषद (नप) कार्रवाई करेगी। पॉलीथिन बैगों में सामान बचने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा। इस संबंध में बुधवार को नप के कर्मचारियों ने शहर में घूम कर मुनादी करवाई। नप द्वारा अगले सप्ताह से चालान काटने की कार्रवाई शुरू की जाएगी। कर्मचारियों ने पॉलीथिन के नुकसान के बारे में भी बताया।  नप के ईओ राजेश वर्मा के निर्देश पर सुपरवाइजर प्रेम कुमार व महेंद्र सिंह और कर्मचारी सोनू, जितेंद्र व सतबीर की टीम शहर में मुख्य बाजार में पहुंची। कर्मचारियों ने पॉलीथिन बैगों का प्रयोग नहीं करने की मुनादी भी करवाई। सुपरवाइजर प्रेम ने कहा कि सरकार व प्रशासन ने पॉलीथिन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा रखा है। शहर में कई दुकानदार सरकार के आदेशों की अवहेलना करते हुए पॉलीथिन का प्रयोग कर रहे हैं। सुपरवाइजर महेंद्र सिंह ने कहा कि पॉलीथिन बैगों के प्रयोग से पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है। उन्होंने कहा कि पॉलीथिन को जलाने से पर्यावरण में बहुत अधिक प्रदूषण फैलता है। उन्होंने कहा कि लोग पॉलीथिनों बैगों को गलियों में फेंक देते हैं, जिससे सफाई व्यवस्था प्रभावित होती है। पॉलीथिन नालियों व सीवर लाइन में पहुंच जाते हैं, जिससे पानी निकासी की व्यवस्था भी प्रभावित होती है। महेंद्र सिंह ने दुकानदारों को समझाया कि उनके यहां जो भी ग्राहक आए उसे साथ में कपड़े का थैला लेकर आने को बोलें। किसी भी ग्राहक को पॉलीथिन बैग में सामान न डाल कर दें। कर्मचारियों ने कहा कि अगले सप्ताह से चालान काटने की कार्रवाई भी शुरू की जाएगी।
सरकार ने पॉलीथिन बैग के इस्तेमाल पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा रखा है। इसके बावजूद कुछ दुकानदार अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे हैं। दुकानदारों को समझाने के लिए मुनादी करवाई गई है। अगले सप्ताह से चालान काटने शुरू किए जाएंगे। 

(Visited 1 times, 1 visits today)
error: Content is protected !!