जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला का बयान 371ए में भी बदलाव करें प्रधानमंत्री, पूरा देश उनके साथ

रोहतक। पूर्व सांसद व जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला का बयान
371ए में भी बदलाव करें प्रधानमंत्री, पूरा देश उनके साथ
एक देश एक कानून हो लागू, असम व पुरोत्तर राज्यों को भी किया जाए समान
धारा 370 हटाना सही फैंसला
18 अगस्त की भूपेन्द्र हुड्डा की रैली पर किया कटाक्ष
यह रैली दिखा रही है हुड्डा की कमजोरी, नया दल बनाने की चर्चाएं काफी समय से लेकिन नही दिखता दम
अपने आप को रोहतक से बाहर निकालने का कर रहे हैं हुड्डा प्रयास
जेजेपी हरियाणा में गठबंधन तो कर सकते हैं, लेकिन किसी महा गठबंधन का हिस्सा, सभी 90 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव- पूर्व सांसद बीजेपी नेता दुष्यंत चौटाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने एक नई मांग रख दी है। उनका कहना है जिस तरह से धारा 370 में बदलाव किए गए हैं। इसी तरह से धारा 371 ए में भी बदलाव की जरूरत है। अगर देश को विकास की ओर ले जाना है तो यह भी करना पड़ेगा और एक देश एक कानून लागू होना चाहिए। दुष्यंत चौटाला सांपला स्थित छोटूराम संग्रहालय में पहुंचे थे। साथ ही उन्होंने भूपेंद्र सिंह हुड्डा की 18 अगस्त को होने वाली रैली पर कटाक्ष करते हुए कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा अब अपने आप को रोहतक से निकालने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन कुछ दम दिखाई नहीं दे रहा है। चौटाला ने कहा धारा 370 को लेकर पूरा देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा है और नरेंद्र मोदी जी भी यही कह रहे हैं कि देश हित में यह फैसला लिया गया। वे मांग करते हैं कि पूरे देश में एक कानून लागू होना चाहिए। जिस तरह से असम और पूर्वोत्तर राज्यों के लिए धारा 371 ए के माध्यम से स्पेशल स्टेटस दिया है, उसमें भी बदलाव करने की जरूरत है। क्योंकि देश में एक ही कानून लागू होना चाहिए।
पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा की 18 अगस्त को होने वाली महा परिवर्तन रैली को लेकर दुष्यंत चौटाला ने कटाक्ष किया कि 4 साल से सुनते आ रहे हैं कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा नई पार्टी बनाएंगे। लेकिन ऐसा कुछ देखने को नहीं मिला है। अब 18 अगस्त को आशा करता हूं कि वह नया दल बनाएं। लेकिन कोई दम दिखाई नहीं दे रहा।भाजपा के खिलाफ राजनीतिक दलों को न्योता देकर हुड्डा ने अपनी कमजोरी दिखा दी है कि वे कुछ करने में सक्षम नहीं है। वे सिर्फ रोहतक से बाहर निकलने का रास्ता देख रहे हैं। लेकिन जनता उनके छल कपट को जान चुकी है और वोट की चोट से उसका जवाब देगी। जहां तक प्रदेश में महागठबंधन बनाने की बात है, तो जेजेपी किसी भी महागठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगी। लेकिन किसी पार्टी के साथ गठबंधन कर सकती है। लेकिन कांग्रेस या भूपेंद्र सिंह हुड्डा के दल के साथ उनका कोई गठबंधन नहीं होगा।

(Visited 56 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!