कुरुक्षेत्र के गांव बारवा में हुए दर्दनाक हादसे में एक मासूम बच्चे की मौत पर पुलिस ने एक बड़ा खुलासा किया है

Watch Like & Subscribe the k9media Youtube channel

धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के गांव बारवा में हुए दर्दनाक हादसे में एक मासूम बच्चे की मौत पर पुलिस ने एक बड़ा खुलासा किया है पुलिस ने बताया कि आरोपी चालक 2 दिन से पुलिस को जो कहानी सुना रहा था वह झूठी निकली
आरोपी ड्राइवर बार बार परिजन और पुलिस को यह बात कह रहा था की गाड़ी चलाते समय 5 वर्ष के बच्चे ने अपनी गर्दन गाड़ी से बाहर निकाली और सामने से आ रही ट्रॉली से टकराने के कारण बच्चे की मौत हुई पर पुलिस की सख्ती के कारण ड्राइवर ने जो बताया उस घटना ने कई लोगों पर सवाल खड़े कर दिए हैं आरोपी ने पुलिस जांच में बताया के बच्चे की मौत गाड़ी में स्टेपनी के लिए रखे गए टायर और रिम पर सर लगने के कारण हुई है और आरोपी ने पहले तो गाड़ी में लगा खून साफ किया और उसके बाद बच्चे को हॉस्पिटल छोड़ कर रफू चक्कर हो गया हालांकि पुलिस ने गाड़ी अपने कब्जे में लेकर और आरोपी को जेल भेज दिया है पर इस घटना की जिम्मेदारी कहीं ना कहीं उन सब लोगों की बनती है जिन लोगों ने एक मासूम बच्चे की जान लेने वाली खूनी गाड़ी को खुलेआम सड़क पर चलने की परमिशन दी है निश्चत रूप से स्कूल वैन के रूप में मौत की गाड़ियां सुबह से शाम सड़क पर दौड़ती नजर आती हैं गाड़ियों में व्यवस्था के नाम पर कुछ भी नहीं होता जिस गाड़ी में मासूम बच्चे की मौत हुई है उस गाड़ी में ना तो साइड ग्लास लगे हैं और ना ही कोई सीसीटीवी कैमरा और जिस वक्त यह गाड़ी बच्चे को घर से स्कूल लेकर जा रही थी तो इस गाड़ी में कोई भी सहायक मौजूद नहीं था जो सीधे-सीधे न्यायालय के द्वारा दिए गए निर्देशों की धज्जियां उड़ाता है मृतक बच्चे के परिजनों ने उन अधिकारी कर्मचारी जिन्होंने इस गाड़ी को पास किया है उन पर भी कार्रवाई की मांग की है पर यह हंगामा थोड़े दिन होगा और उसके बाद इस तरह की गाड़ियों को कुर्सी पर बैठे अधिकारी बदस्तूर पास करते रहेंगे और यह मौत की गाड़ियां इसी तरह किसी ना किसी के घर का चिराग बुझाती रहेंगी।


Follow us on facebook
twitter
youtube
dailymotion

(Visited 7 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!