एमडीयू के जूलोजी विभाग के 18 विद्यार्थियों ने नेट/जेआरएफ तथा 14 विद्यार्थियों ने गेट की परीक्षा उत्तीर्ण की है।

Watch Like & Subscribe the k9media Youtube channel

अप्रैल। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय एमडीयू के जूलोजी विभाग के 18 विद्यार्थियों ने नेट/जेआरएफ तथा 14 विद्यार्थियों ने गेट की परीक्षा उत्तीर्ण की है।
जूलोजी विभाग की अध्यक्षा प्रो. मीनाक्षी शर्मा ने बताया कि नेट/जेआरएफ की परीक्षा उत्तीर्ण विद्यार्थी हैं-अंकित कुमार,सुप्रिया, शिवानी, रूचि, खुशबू, प्रिया, सोनिया, रमन, राखी, संदीप, प्रियंका शुक्ला, अक्षय कुमार, स्वाति, एकता, सुमित, मोनिका यादव, निशा यादव व नुपूर। गेट परीक्षा उत्तीर्ण विद्यार्थी हैं- मोहित,सुप्रिया, हरीश, रूचि, अंकित, शिवानी, श्वेता, पूजा, कविता, नितिन, अनामिका, पूजा, प्रियंका व एकता। प्रो. मीनाक्षा शर्मा एवं विभाग के अन्य प्राध्यापकों ने इन विद्यार्थियों को बधाई एवं उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं प्रदान की।
रोहतक, 11 अप्रैल। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (एमडीयू) के यूनिवर्सिटी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलोजी में आज कॅरियर काउंसलिंग एंड प्लेसमेंट सेल के तत्वावधान में आज कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव का आयोजन किया गया।
प्रतिष्ठित टेलीकाम कंपनी रिलायंस जियो डिजिटल के एचआर एसोसिएट कनिका तथा उनकी टीम ने कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव में विद्यार्थियों की लिखित परीक्षा तथा साक्षात्कार लिया। यूआईईटी के ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट अधिकारी अरूण हुड्डा ने बताया कि इस कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव में संबद्ध महाविद्यालयों के बीए, बीकॉम व बीएससी पास विद्यार्थियों ने भाग लिया। पहले विद्यार्थियों का एप्टीट्यूड टेस्ट लिया गया, जिसके परिणाम के आधार पर साक्षात्कार लिया गया। अरूण हुड्डा ने बताया किचयनित विद्यार्थियों की लिस्ट कंपनी जल्द ही जारी करेगी।
रोहतक, 11 अप्रैल। महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (एमडीयू) के मनोविज्ञान विभाग में आज विशेष व्याख्यान कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
प्रतिष्ठित मनोविज्ञान विशेषज्ञ डा. रमेश चन्द्र ने बतौर विशिष्ट वक्ता ने सशस्त्र सेना में मनोविज्ञान विश्लेषण की प्रक्रिया को विस्तार से विद्यार्थियों के साथ सांझा किया। उन्होंने कहा कि सेना में मनोचिकित्सक की अहम भूमिका है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना तथा आमजन की मानसिक परेशानियां दूर करने में मनोचिकित्सक महत्ती भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा कि मनोचिकित्सा के क्षेत्र में प्रोफेशनल्स और स्किल्ड साइकालोजिस्ट/काउंसलर की बहुत डिमांड है। इसलिए मनोविज्ञान के विद्यार्थी स्किल्ड एवं प्रोफेशनल्स बनें। मनोविज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रो. नवरत्न शर्मा ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से विद्यार्थी निश्चित रूप से लाभान्वित होते हैं और उन्हें मनोविज्ञान के क्षेत्र में उपलब्ध रोजगार की अपार संभावनाओं बारे व्यावहारिक जानकारी मिलती है। छात्रा रिद्धी गोयल ने कार्यक्रम का संचालन किया एवं आभार प्रदर्शन किया। इस अवसर पर विभाग के प्राध्यापक एवं विद्यार्थीगण उपस्थित रहे। div>
 

/div>

 Attachments area

Attachments area


Follow us on facebook
twitter
youtube
dailymotion

(Visited 2 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!